ad02jan2018

एक म्यान में दो तलवार कैसे रह सकते हैं ???

15 अगस्त 1947 वहाँ देश आजाद हो रहा था और एक शख्स ऐसा था जो कोलकाता की सड़कों पर लोगों को सदभाव बनाये रखने की अपील करता घूम रहा था. वो थे महात्मा गाँधी. 
हम जाने उनके बारे में क्या क्या बोलते हैं. उन्होने बहुत प्रयास किये की देश के टुकड़े न हों. पर पंडित जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्नाह की प्रधानमंत्री बनने की ललक ने देश के टुकड़े करवा दिए.































रविन्द्र शर्मा
तकनीशियन 
केमिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट,
संत लोंगोवाल अभियांत्रिक एवं प्रौद्योगिकी संस्थान, लोंगोवाल, पंजाब-१४८१०६


Comments

Popular posts from this blog

A Modern Approach to Logical Reasoning and Quantitative aptitude (Mathematics) (R.S. Aggarwal) pdf link

AICTE ने 75% attendenc को किया समाप्त !!!! लेकिन उसकी जगह अब देना होगा प्रोजेक्ट एवं इंटर्नशिप (this is a fake news which was circulated on social media)